गोरी त्वचा और लंबे बालों के लिए मुल्तानी मिट्टी के 11 फायदे

आज हम आपको गोरी त्वचा और लंबे बालों के लिए मुल्तानी मिट्टी के 11 फायदे बताने जा रहे हैं कृपया पूरी जानकारी ध्यान पूर्वक पढ़ें , क्योंकि मुल्तानी मिट्टी जितना फायदेमंद है उतना ही नुकसान देय है । इसलिए उपयोग करने से पहले दी गई जानकारी ध्यान पूर्वक पढ़ें – मुल्तानी मिट्टी एक ऐसा प्राकृतिक पदार्थ है जो त्वचा और बाल दोनों को स्वस्थ और सुंदर बनाये रखने में बहुत मदद करता है। यह एक घरेलू नुस्खे हैं, जो वर्षों से चली आ रही है।multani mitti ke fayde for face in hindi

multani mitti ke fayde for face in hindi

गर्मियों के दिनों में अक्सर हमारी स्किन डल होने लगती है, इसीलिए आज हम आपको एक बहुत ही कमाल की मुल्तानी मिट्टी से होने वाली फायदे बताने वाले जिससे आप गर्मियों में भी अपनी स्किन में गजब का निखार ला सकते हैं । चेहरे की डेड स्किन, आपके चेहरे के दाग धब्बे, झाइयाँ, सांवलापन, इन सभी को आसानी से खत्म कर देती है, चाहे आपके चेहरा बिलकुल डल और बेजान हो गया हो, और आपकी पूरी ख़ूबसूरती खराब हो गयी हो, या आँखों के नीचे डार्क सर्कल्स हो गये हों,। इन सभी के लिए ये रेमेडी बहुत जबरदस्त ढंग से काम करती है।।

मुल्तानी मिट्टी (fuller’s earth) का प्रयोग युगों से सौन्दर्य संबंधी उपचार के लिए किया जाता रहा है। मुल्तानी मिट्टी प्रकृति का अनमोल वरदान है जो बाल और त्वचा संबंधी किसी भी समस्या से लड़ने में मदद करता है। मुल्तानी मिट्टी के लिए सबसे अच्छी बात यह होती है कि यह सस्ता होता है और आसानी से पाया जा सकता है। मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल भी आप बहुत ही सरल और सामान्य तरीके से अपने घर में कर सकते हैं।


त्वचा- मु्ल्तानी मिट्टी में जो एन्टीसेप्टिक का गुण होता है वह त्वचा संबंधी समस्याओं से लड़ने में मदद करता है। त्वचा संबंधी चार समस्याओं से लड़ने में मुल्तानी मिट्टी का पैक बहुत मदद करता है-
दाग धब्बों को कम करने में मदद करता है- कभी-कभी धूप में ज़्यादा देर रहने पर या प्रदूषण के कारण चेहरे पर दाग-धब्बे बन जाते हैं और आपके सौन्दर्य पर दाग लग जाता है। मुल्तानी मिट्टी और दही का पैक इससे राहत दिलाने में बहुत मदद करेगा।

मुल्तानी मिट्टी के फायदे मुहांसों के लिए – Multani Mitti Lagane Ke Fayde For Acne in Hindi


विधि- एक कटोरी में मुल्तानी मिट्टी और दही लें और दोनों को अच्छी तरह से आधा घंटा तक भिगने दें। उसके बाद उसमें पुदीना का पावडर डालकर अच्छी तरह से मिला लें। इस पैक को दाग वाले जगह पर लगाकर तीस-मिनट तक सूखने के लिए छोड़ दें। फिर उसको गुनगुने गर्म पानी से धो लें। इस पैक के रोजाना इस्तेमाल से दाग-दब्बे धीरे-धीरे कम होने लगते है।
आप धब्बों को असरदार रूप से कम करने के लिए मुल्तानी मिट्टी में चंदन का पावडर और टमाटर का रस डालकर पैक को बना लें। यह पैक धब्बों को धीरे-धीरे कम करने में बहुत मदद करता है।


मुँहासों से छुटकारा दिलाने में मदद करता है- प्रदूषण और अपनी त्वचा की देखभाल अच्छी तरह से न करने के कारण चेहरे पर मुँहासे निकलने लगते हैं। मुल्तानी मिट्टी और नीम का पेस्ट मुँहासों का निकलना कम करने में मदद करता है।
विधि- एक कटोरी में एक छोटा चम्मच नीम का पावडर या पेस्ट ले, उसमें दो छोटा चम्मच मुल्तानी मिट्टी, ज़रूरत के अनुसार गुलाब जल, एक चुटकी कपूर, और चार-पाँच लौंग को पीसकर बनाया हुआ पावडर डालकर पैक को बना लें। चेहरे पर मुँहासो वाली जगह पर पैक को अच्छी तरह से लगाकर दस से पंद्रह मिनटों तक लगाकर रखें। सूखने के बाद पानी से धो लें।

गोरी त्वचा और लंबे बालों के लिए मुल्तानी मिट्टी के 11 फायदे – ध्यान पूर्वक पढ़ें


झुर्रियों को उम्र से पहले आने सेे

जैसा ही आप युवा अवस्था से वयस्क अवस्था में कदम रखने लगते हैं आपकी त्वचा अपनी रौनक खोने लगती है। लेकिन मुल्तानी मिट्टी का पैक इस समस्या से जल्द राहत दिलाने में मददगार साबित होता है।
विधि- एक कटोरी में एक बड़ा चम्मच मुल्तानी मिट्टी के साथ समान मात्रा में दही लें और उसमें एक अंडा फोड़कर डालें। इस पैक को मुलायम बनाने के लिए अच्छी तरह से मिला लें। इस पैक को चेहरे पर लगाकर बीस मिनटों तक सूखने के लिए छोड़ दें और फिर गुनगुने गर्म पानी से धो लें। पैक को धोने के बाद आपको अलग ही तरह का ताजगी महसूस होगा।
तैलाक्त त्वचा के रौनक को लौटाने में मदद करता है- मुल्तानी मिट्टी एक ऐसा प्राकृतिक चीज है जो तैलाक्त त्वचा से तेल को सोखने में मदद करता है और त्वचा को ताजगी प्रदान करता है।


विधि- एक कटोरी में एक छोटा चम्मच खीरे का पेस्ट, कच्चा दूध, दो छोटा चम्मच बेसन और मुल्तानी मिट्टी को डालकर अच्छी तरह से मिला लें। यह पैक त्वचा से अतिरिक्त तेल को सोखने में मदद करता है।

multani mitti se baal lambe kaise kare


बाल- आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि मुल्तानी मिट्टी सिर्फ त्वचा संबंधी समस्याओं से लड़ने में ही मदद नहीं करता है बल्कि बालों के कई समस्याओं से राहत दिलाने में भी मदद करता है। यह स्कैल्प से अतिरिक्त तेल को सोखने में मदद करता है। यह बालों से रूसी की समस्या से राहत दिलाने में और कन्डिशनिंग करने में मदद करता है।
रूखे बालों को स्वस्थ करने में मदद करता है- कभी-कभी प्रदूषण या बूरे खान-पान का असर बालों पर होता हैं और वे रूखे और बेजान हो जाते हैं। मुल्तानी मिट्टी, दही और नींबू का पैक बालों को रेशम जैसा बनाने में मदद करते हैं।

multani mitti ka upyog kaise kare


विधि- एक कटोरी में चार छोटा चम्मच मुल्तानी मिट्टी, ½ कप दही, आधा नींबू का रस, दो छोटा चम्मच शहद डालकर अच्छी तरह से मिलाकर पैक को बना लें। दही बालों का झड़ना कम करता है और नींबू रूसी की समस्या से राहत दिलाने में मदद करता है। शहद बालों को काला और घना बनाने में मदद करता है। इस पैक को बालों में अच्छी तरह से लगाकर तीस मिनट तक रख दें फिर शैंपू से धो लें।
दोमुँहे बालों की समस्या से राहत दिलाता है- अक्सर दोमुँहे बालों की समस्या से महिलाओं को जुझना पड़ता है।

इस समस्या के कारण बाल अपने सौन्दर्य को खो देते हैं। मुल्तानी मिट्टी और दही का पैक इस समस्या से राहत दिलाने में बहुत मदद करता है।
विधि- रात को बालों में ऑलिव ऑयल लगायें। अगले दिन सुबह गर्म पानी में भिगोये हुए तौलिये से बालों को ढक कर रखें। एक घंटे के बाद दही और मुल्तानी मिट्टी का पैक बालों में लगायें और सूखने के बाद शैंपू से धो लें।

multani mitti ke fayde balo ke liye


बालों को स्वस्थ रखने में मदद करता है- चेहरे की तरह बालों को स्वस्थ रखना भी ज़रूरी होता है। मुल्तानी मिट्टी का पैक आपके लंबे काले बालों को स्वस्थ और सुंदर बनाये रखने में मदद करता है।
विधि- एक कप मुल्तानी मिट्टी में पाँच छोटा चम्मच चावल का पावडर, एक अंडे की सफेदी डालकर अच्छी तरह से मिला लें। फिर इस पैक को स्कैल्प और बालों में अच्छी तरह से लगाकर दस मिनट तक रखें और फिर शैंपू से धो लें।

मुल्तानी मिट्टी के उपाय कालापन दूर करने के लिए – Multani Mitti Ke Fayde Kalapan Dur Karne Ke Liye In Hindi

मुल्तानी मिट्टी आपके चेहरे से दागों और पिगमेंटेशन को दूर करने के साथ यह प्राकृतिक तत्व खराब सन टैन से छुटकारा पाने में भी मदद करता है। सन टैन से छुटकारा पाने के लिए और इसका फेस पैक बनाने के लिय आप 1 बड़ी चम्मच मुल्तानी मिट्टी और 1 बड़ा चम्मच मैश किया हुआ पपीता को एक कटोरे में अच्छे से मिला लें। इसे दो मिनिट के लिए रख दें।

इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाएं। और अपनी आंखों और मुंह के आसपास के नाजुक क्षेत्रों से बचाना सुनिश्चित करें। इस पेस्ट को लगभग 20 मिनट के लिए अपने फेस पर लगा छोड़ दें। इसके बाद एक नम तौलिया के साथ फेस पैक को पोंछें और अपने चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें। मुल्तानी मिट्टी के उपाय से कालापन दूर करने के लिए आप इसे सप्ताह में 2-3 बार करें।।।

ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स को दूर करे मुल्तानी मिट्टी – Blackheads aur Whiteheads dur kare Multani Mitti in Hindi


मुल्तानी मिट्टी एक स्क्रब के रूप में ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स से छुटकारा पाने में मदद करता है। मुल्तानी मिट्टी की मदद से ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स को हटाने के लिए इसका फेस पैक बहुत ही फायदेमंद है। इसका फेस पैक बनाने के लिए 1 बड़ा चम्मच मुल्तानी मिट्टी और 1.5 चम्मच गुलाब जल को लें।

मुल्तानी मिट्टी और गुलाब जल को तब तक मिलाएं जब तक आपको एक गाढ़ा मिश्रण न मिल जाए। इस मिश्रण को आंखों और मुंह के आसपास के नाजुक क्षेत्रों से दूर अपने चेहरे पर लगाएं। अब मिश्रण से धीरे से अपने चेहरे की मालिश करें। आपकी नाक जैसे ब्लैकहेड्स से प्रभावित क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित करें। लगभग 5 मिनट के बाद अपने चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें। यह उपाय आपको सप्ताह में 2-3 बार करना हैं।

मुल्तानी मिट्टी के फायदे रक्त परिसंचरण में सुधार में – Multani Mitti ke fayde Improves Blood Circulation me in Hindi


मुल्तानी मिट्टी आपकी त्वचा को उत्तेजित करके रक्त के संचार को बेहतर बनाने में मदद करती है। मुल्तानी मिट्टी से शरीर में रक्त परिसंचरण को बेहतर बनाने के लिए आप 2 बड़े चम्मच मुल्तानी मिट्टी और 1 बड़ा चम्मच पानी को मिला के पेस्ट बना लें। अब इस मुल्तानी मिटटी के पेस्ट को अपने शरीर के किसी भी हिस्से पर लगायें और लगभग 15 मिनट तक लगा रहने दें। फिर एक नम तौलिया से इसे साफ कर लें। इसे आप दिन में एक बार जरूर करें।

मुल्तानी मिट्टी कील-मुहांसे कम करने के लिए –

मुल्तानी मिट्टी को तेल सोखने के गुण की वजह से जाना जाता है, इसी गुण की वजह से यह कील होने से बचाता है। यह त्वचा से तेल और गंदगी निकालने में मदद करता है।

यह इल्ला के घाव को भी जल्दी भरता है। यह इसमें मौजूद खनिज पदार्थ से त्वचा को पोषित करता है और उसको स्वस्थ रखता है।

मुल्तानी मिट्टी त्वचा का रंग गोरा करता है

काले धब्बे हटाने के अलावा यह प्राकृतिक सौंदर्य उत्पाद सूर्य की किरणों से बचाता है। रंग गोरा करने के लिए मुल्तानी मिट्टी के प्रयोग :

सामग्री

एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी
एक चम्मच पिसा हुआ पपीता
एक तौलिया
प्रकिया

चेहरे को धो कर तौलिए से पोंछ लें।
प्लास्टिक और गलास के बर्तन में सारी सामाग्री को मिला लें।
इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगा लें, पर आंखो का ध्यान रखे।
इस पेस्ट को 20 मिनट तक लगा के छोड़ दे, जब तक पैक सूख ना जाए।
गीले तौलिए की मदद से फेस पैक को साफ कर लें।
हल्के गरम पानी से चेहरे को साफ कर लें।

निशान हटाने के लिए मुल्तानी मिट्टी

सामग्री :-

एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी
एक चम्मच गाजर का रस
एक चम्मच जैतून का तेल
एक तौलिया
प्रक्रिया

त्वचा को सौम्य क्लींजर से साफ कर ले और तौलिए से पोंछ लें।
एक बर्तन में सभी सामग्री को मिला कर एक मिश्रण तैयार कर लें।
इस मिश्रण को प्रभावित हिस्सो पर लगाकर 15 मिनट तक बैठ जाए।
इसे तौलिए की मदद से पोंछ लें।

त्वचा को साफ करना – multani mitti ko chehre par kaise lagaye

मुल्तानी मिट्टी एक सौम्य क्लींजर की तरह काम करता है जो केवल गंदगी को नहीं हटाता बल्कि त्वचा को साफ भी करता है और उसका रंग गोरा करता है। बॉडी वॉश के लिए प्रयोग करने की विधि :multani mitti ko chehre par kaise lagaye

सामग्री :- एक कप दलिया
एक कप नीम का पाउडर
¼ कप सफेद चंदन
एक चम्मच हल्दी पाउडर
एक चम्मच चने का आटा
एक कप मुल्तानी मिट्टी
प्रक्रिया

सामग्री को मिला कर मिश्रण एक जार में रख लें।
अपनी साबुन की जगह इस पाउडर इस्तेमाल करें।
थोड़ी देर के लिए इस पाउडर को अपने शरीर पर लगाकर स्क्रब करें।
हल्के गरम पानी से धो लें।।।

मुल्तानी मिट्टी के नुकसान – Multani mitti ke nuksan in Hindi


ऊपर दिये गए मुल्तानी मिट्टी के फायदों को जानकर हम यह समझ सकते हैं की यह हमारे लिए कितनी लाभदायक हैं। मुल्तानी मिट्टी के कोई गंभीर नुकसान नहीं हैं पर इसका प्रयोग करने से पहले आपको निम्न बातों को अपने ध्यान में रखना बहुत ही आवश्यक है।

यह आपकी त्वचा को शुष्क बना सकती हैं।
यह आपकी त्वचा को डिहाइड्रेशन भी कर सकती हैं।
मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग सावधानी से करें क्योंकि इसकी धूल साँस लेने में परेशानी पैदा कर सकती हैं।
मुल्तानी मिट्टी का सेवन न करें, इसे खाने से गुर्दे की पथरी या आंतों में जलन हो सकती है।
हमेशा वास्तविक और अच्छी गुणवत्ता वाली मुल्तानी मिट्टी को ही चुनें।
मुल्तानी मिट्टी को ठंडी और सूखी जगह पर स्टोर करें और हमेशा गर्मी, हवा और धूप से दूर रखें।
इसे फ्रिज में या किसी एयर टाइट जार में स्टोर करें।!!!

इसी तरह की और भी ज्यादा जानकारी के लिए हमारे साथ जुड़े रहे :-

Health tips hindi me

Career jankari

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *